सेवा ही हमारे जीवन का पर्याय होना चाहिए- दीपक भार्गव



डबरा/ विश्व हिन्दू परिषद (विहिप) की स्थापना के 60 वर्ष पूरे हो रहे हैं। इसलिए राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा के बाद संगठन विस्तार के साथ-साथ सामाजिक समरसता और सेवा के कार्यों पर विश्व हिंदू परिषद आगे बढ़ाने की दिशा में महापुरुषों की मूर्तियां मंदिरों की सफाई एवं अस्पताल में सफाई एवं मरीज के बीच फल वितरण जैसे कार्यक्रमों को संपन्न किया। संगठन का प्रयास है कि हम अपने काम को अगले जन्माष्टमी तक एक लाख स्थानों तक लेकर जायें। यह बातें विश्व हिन्दू परिषद के सह सह प्रांत प्रचार प्रसार प्रमुख दीपक भार्गव ने कहा । उन्होंने कहा कि विश्व हिंदू परिषद दुर्गा वाहिनी एवं बजरंग दल सेवा कार्यों के माध्यम से ब्यापक जनजागरण और संपर्क कर समाज को अपना सहभागी बनाए जा सके इस हेतु सेवा सप्ताह का कार्यक्रम आयोजित किया गया है।विश्व हिन्दू परिषद के उन्होंने बताया कि हमने संगठनात्मक दृष्टि से पूरे देश में 1100 जिले बनाये हैं। अभी हमारे सेवा कार्य 500 जिलों तक पहुंचे हैं। हम सब जानते हैं कि स्वामी विवेकानंद ने नर सेवा ही नारायण सेवा का जो संकल्प दिया था उसी को चरितार्थ करने के लिए अपना आदर्श मानते हुए युवा सेवा हेतु आकृष्ट हो इस हेतु सेवा सप्ताह आयोजित किया गया जिसमें जो सेवा कार्य संपन्न हुए उसमें महापुरुषों की प्रतिमाओं की सफाई एवं पूजन जिसमें पूज्य अंबेडकर, पूज्य मैथिली शरण गुप्त, पूज्य अग्रसेन महाराज,  जैन स्तंभ लेख, पूज्य भगत सिंह ,पूज्य सुभाष चंद्र बोस ,पूज्य ज्योति राव फुले एवं मंदिरों की सफाई क्रम में तहसील मंदिर ,ठाकुर बाबा काली माता मंदिर, धूमेश्वर मंदिर एवं अस्पतालों की सफाई एवं  फल वितरण के क्रम शासकीय अस्पताल डबरा का जच्चा वार्ड एवं शासकीय हॉस्पिटल पिछोर मैं भी कार्यक्रम संपन्न कराए गए, विश्व हिंदू परिषद के अलावा समाज के विभिन्न जाति बिरादरी के लोग सम्मिलित हुए जिनमें प्रमुख रूप से डॉक्टर कौशलेंद्र श्रीवास्तव, जितेंद्र गुप्ता ,रविंद्र सिंह चौहान राकेश पाराशर ,उपेंद्र परमार ,प्रभु सिंघल, संदीप सैनिक ,बंटी भदोरिया भूपेंद्र भार्गव, कुबेर सेन पंकज गुप्ता, राजू गुप्ता आरटीओ ,रितेश जैन गजराज सिंह बघेल, सचिन मारवाड़ी ,धर्मवीर कसुरिया ,शिवम सेन नरेश शिवहरे आदि प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *